Monday, October 12, 2009

राजीव रंजन गिरी





(यह तस्‍वीर शिमला एडवांस स्‍टडीज में 23 से 29 सितंबर, 2009 के दौरान 'हिदी की आधुनिकता : एक पुनर्विचार' विषय पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान ली गयी थी)

1 comment:

Chandrashekhar said...

अरे....आप कब आलोचक हो गये और हमे बताया ही नहीं....बधाई ।